शक्ति और प्रार्थना के लिए 10 शक्तिशाली बाइबिल श्लोक

1
2686

 

आज हम आपको मजबूत बने रहने में मदद करने के लिए शक्तिशाली बाइबल छंदों से निपटेंगे। दुनिया मुसीबतों से भरी है। यह कष्टों और कष्टों से भरा है। परन्‍तु हम पवित्र शास्‍त्र में तसल्ली करते हैं, कि ये बातें मैं ने तुम से इसलिये कही हैं, कि तुम को मुझ में शान्ति मिले। संसार में तुम्हें क्लेश होगा, परन्तु हियाव बान्धो; मैने संसार पर काबू पा लिया। भगवान ने दुनिया को जीत लिया है। हमें अपने निर्माता की जीत का आधार बनने की उम्मीद है।

फिर भी, जब हम उसके वचन के वादे को पूरा करने के लिए प्रभु की प्रतीक्षा करते हैं, तो हमें अपनी आँखों को क्रूस पर टिकाए रखने और प्रभु की प्रतीक्षा करते हुए ध्यान केंद्रित करने के लिए शक्ति की आवश्यकता होती है। प्रभु की प्रतीक्षा करना करने से आसान कहा जाता है। जब तक वे प्रभु की प्रतीक्षा कर रहे थे, तब तक बहुत से विश्वासियों को शैतान ने बहकाया है। ऐसा इसलिए है क्योंकि उनके पास स्थिति की परवाह किए बिना ध्यान केंद्रित करने और भगवान पर भरोसा करने की ताकत नहीं है। परमेश्वर का मार्ग मनुष्य से भिन्न है। शास्त्र हमें समझाते हैं कि जैसे स्वर्ग पृथ्वी से बहुत दूर है, वैसे ही उसके विचार हमसे दूर हैं।

Kभारत में YouTube पर हर रोज प्रार्थना गाइड टीवी देखें
अभी ग्राहक बनें

जब हमने क्लेश दिए, तो यह अपेक्षा की जाती है कि हम समाधान के लिए प्रार्थना करें। हालांकि, हर समय हम उन समाधानों के लिए प्रार्थना नहीं करते हैं जो हम उन्हें प्राप्त करते हैं। ऐसे समय होते हैं जब भगवान हमें धैर्य सिखाने के लिए हमारी प्रार्थनाओं का उत्तर देने में देरी करते हैं और हमें उसमें और अधिक दृढ़ होने की क्षमता प्रदान करते हैं। हम विश्वासियों के रूप में अधिक शक्ति प्राप्त करते हैं जितना अधिक हम ईश्वर में विश्वास और विश्वास करते हैं। सभी बंद दरवाजे का मतलब भगवान से नहीं है, और सभी खुले दरवाजे का मतलब हां से नहीं है। इसे समझने के लिए ईश्वर की आत्मा की आवश्यकता होती है।

जब जीवन का तूफान हम पर बेरहमी से हमला करता है, हमें खड़े रहने के लिए ताकत चाहिए। जब हम जीवन की आग से गुजर रहे होते हैं, तो हमें अपने विश्वास को बनाए रखने के लिए शक्ति की आवश्यकता होती है। जब हम बीमार होते हैं, तो हमें ताकत की जरूरत होती है, इसलिए हम थकते नहीं हैं। विश्वासियों के रूप में, प्रार्थना करने और त्वरित प्रतिक्रिया प्राप्त करने का सबसे अच्छा तरीका परमेश्वर के वचन का उपयोग करना है। बाइबल ने हमें समझा दिया कि परमेश्वर अपने वचन का सम्मान अपने नाम से कहीं अधिक करता है। परमेश्वर ने अपने वचन में जो कुछ भी वादा किया है, वह उन्हें पूरा करेगा। इसलिए हमें मुसीबत के क्षणों में मजबूत बने रहने में मदद करने के लिए बाइबल की कुछ आयतों की आवश्यकता होगी।

यदि आपको शक्ति की आवश्यकता है, तो क्यों न इस ब्लॉग में हाइलाइट किए गए शास्त्र पाठ का उपयोग करके इसके लिए प्रार्थना करें। मैं प्रार्थना करता हूं कि जैसा आप करते हैं, भगवान आपको यीशु के नाम पर शक्ति प्रदान करेंगे।

बाइबिल के पद

  • निर्गमन 15:2 यहोवा मेरा बल और मेरा गीत है; उसने मुझे जीत दिलाई है। यह मेरा परमेश्वर है, और मैं उसकी स्तुति करूंगा- अपके पिता का परमेश्वर, और मैं उसकी बड़ाई करूंगा!
  • यशायाह २६: ३-४ जो दृढ़ मन के हैं, वे शांति से रहते हैं - क्योंकि वे आप पर भरोसा करते हैं। यहोवा पर सदा भरोसा रखो, क्योंकि यहोवा परमेश्वर में तुम्हारे पास एक चिरस्थायी चट्टान है।
  • व्यवस्थाविवरण 31:8 यहोवा तेरे आगे आगे चलता है। वह तुम्हारे साथ रहेगा; वह न तो तुम्हें निराश करेगा और न ही तुम्हें त्यागेगा। डरो या निराश मत हो।
  • भजन संहिता 34:17 जब धर्मी सहायता के लिथे दोहाई देते हैं, तब यहोवा सुनता है, और उनको उनके सब विपत्तियोंसे छुड़ाता है।
  • फिलिप्पियों 4:6 किसी बात की चिन्ता न करना, परन्‍तु हर बात में प्रार्थना और मिन्‍नतों के द्वारा धन्यवाद के साथ अपनी बिनती परमेश्‍वर पर प्रगट करना। और परमेश्वर की शांति, जो समझ से परे है, तुम्हारे हृदयों और तुम्हारे विचारों को मसीह यीशु में सुरक्षित रखेगी।
  • यूहन्ना 14:27 मैं तुम्हारे साथ शान्ति छोड़ता हूं; मेरी शांति मैं तुम्हें देता हूँ। मैं तुम्हें वैसा नहीं देता जैसा दुनिया देती है। अपने दिलों को परेशान न होने दें, और न डरें।
  • भजन संहिता 27:1-3 यहोवा मेरा प्रकाश और मेरा उद्धार है, मैं किसका भय खाऊं? यहोवा मेरे जीवन का दृढ़ गढ़ है, मैं किस से डरूं? जब दुष्ट मुझ पर चढ़ाई करके मुझे फाड़ डालेंगे, तब मेरे शत्रु और मेरे बैरी ही ठोकर खाकर गिर पड़ेंगे। चाहे सेना मुझे घेर ले, तौभी मेरा मन न डरेगा; चाहे मेरे विरुद्ध युद्ध छिड़ जाए, तौभी मैं निश्चय दृढ़ रहूंगा।
  • भजन संहिता १४५:१८-१९ यहोवा उन सभों के निकट रहता है, जो उसे पुकारते हैं, और जो उसे सच्चाई से पुकारते हैं। वह अपने डरवैयों की इच्छा पूरी करता है; वह उनकी पुकार सुन कर उनका उद्धार करता है।
  • भजन संहिता ६२:१-२ मेरी आत्मा केवल परमेश्वर में ही विश्राम पाती है; मेरा उद्धार उसी से होता है। वही मेरी चट्टान और मेरा उद्धार है; वह मेरा गढ़ है, मैं कभी नहीं हिलूंगा
  • भजन संहिता ११२:१, ७-८ यहोवा की स्तुति करो! धन्य हैं वे जो यहोवा का भय मानते हैं। वे बुरी ख़बरों से नहीं डरते; उनके हृदय दृढ़ हैं, प्रभु में सुरक्षित हैं। उनका हृदय स्थिर है; वे डरेंगे नहीं।

प्रार्थना अंक

  • मैं प्रार्थना करता हूं कि जीवन के हर क्षेत्र में प्रभु की आत्मा आपकी मदद करेगी कि आपकी ताकत विफल हो रही है। मैं प्रार्थना करता हूं कि मसीह यीशु की कृपा आपके जीवन को घेर ले और आपको यीशु के नाम पर आपके खिलाफ आने वाली हर चुनौती को दूर करने की शक्ति प्रदान करे।
  • मैं प्रार्थना करता हूं कि यहोवा के दूत तुम्हारी दुर्बल आत्मा की सेवा करें। वे अपने दहिने हाथ के बल से तुझ पर धावा बोलेंगे। वे तुझे अपने कन्धों पर उठाएंगे, कि तू चट्टान पर अपना पांव न धरेगा, और वे तुझे हर संकट से छुड़ाएंगे।
  • मैं आज तुम्हारे लिए प्रार्थना करता हूँ; जब तू यहोवा का नाम लेगा, तब तुझे उत्तर मिलेगा। जहाँ आपको मदद की ज़रूरत है, इसराएल का पराक्रमी आपको एक भेजेगा, जब आपको शक्ति की आवश्यकता होगी, पवित्र आत्मा की शक्ति आप पर आएगी और जब आपको उपचार की आवश्यकता होगी, तो भगवान का दाहिना हाथ जो कि चमत्कार करता है, आपको नाम में ठीक कर देगा यीशु का।
  • मैं ईश्वर के दैवज्ञ के रूप में घोषणा करता हूं कि जो समस्या आपके सामने है वह आपको दूर नहीं करेगी। तुम जीवन के तूफान में नहीं खोओगे। इब्राहीम, इसहाक और याकूब का परमेश्वर तूफान में तुम्हारा मार्गदर्शन करेगा, और तुम यीशु मसीह के नाम पर विजयी होकर निकलोगे।
  • क्‍योंकि लिखा है, कि जिन मिस्रियोंको तुम आज देखते हो, उनको फिर न देखोगे। मैं तेरे जीवन पर यह भविष्यद्वाणी करता हूं; आज आप जो परेशानी, दर्द और क्लेश देख रहे हैं, वह यीशु के नाम पर इतिहास बन जाएगा। तथास्तु।

 


1 टिप्पणी

उत्तर छोड़ दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहां दर्ज करें

यह साइट स्पैम को कम करने के लिए अकिस्मेट का उपयोग करती है। जानें कि आपका डेटा कैसे संसाधित किया जाता है.